राहें

” ज़िन्दगी में कुछ राहें होती है जो बस कुछ दूर चलके ख़त्म हो जाती है| कुछ होती है जो ख़त्म ही नहीं होती | और कुछ होती है जिनके होने का सिर्फ एक एहसास होता है और जैसे ही तुम उस राह पर कदम बढ़ाते हो, वो कहीं खो जाती है | ”

आज सुबह उठते ही ना जाने क्यों ये ख्याल आया मुझे | मन इसी को लेकर थोड़ा विचलित सा हो रहा था तो सोचा तुमसे बात कर लेता हूँ, मन हल्का हो जाएगा | तुम्हारा मोबाइल बंद बता रहा था तो मैंने तुम्हारा लैंडलाइन नंबर मिला दिया  |  दो-तीन घंटियों के बाद जब तुमने फ़ोन उठाया तो पता नहीं क्यों, मैं कुछ बोल नहीं पाया | तुम्हारी आवाज़ सुनके ऐसा महसूस हुआ जैसे की तुम मुझसे बहुत दूर जा चुकी हो | ऐसा लगा जैसे की मैं खो चूका हूँ तुम्हे | किसी तरह इस एहसास को दबाते हुए मैं बोला, “नमस्ते, कैसे हो?”

मैं कुछ पल ठहरा लेकिन कोई जवाब नहीं आया तुम्हारी तरफ से | मुझे लगा की फ़ोन की लाइन में शायद कुछ खराबी है और मेरा ध्यान बटा लेकिन तभी, तुम बोल उठी | एक पल के लिए मेरे चेहरे पर मुस्कान तो आयी लेकिन तुम्हारे शब्द सुन कर, बिना ठहरे युहीं पलट गयी |

आवाज़ तो तुम्हारी ही थी लेकिन शब्द नए थे और तरीका अनजान था | वो एहसास जिसे में दबा कर बैठा था, सर उठा के अब मुझ पे हंस रहा था | जिस व्याकुलता को शांत करने के लिए तुमसे बात करना चाह रहा था, वो मेरे सामने तांडव कर रही थी |

शब्द मेरी जुबान पे थे लेकिन मैं उन्हें आज़ाद करने की हिम्मत नहीं कर पाया | कभी कभी कैद लफ्ज़ ही किसी को आज़ाद कर सकते है |

मैंने बस एक सांस भरी और बिना कुछ बोले ही फ़ोन रख दिया |

साथ चलते चलते हमारी राहें कब अलग हो गयी पता ही नहीं चला | क्या ये राह कभी हमारी थी? क्या वो सिर्फ एक एहसास भर ही था? नहीं, ये सिर्फ एक एहसास नहीं था | मेरे लिए तो नहीं | मैं आज भी वहीँ खड़ा हूँ जहाँ पहले था | तो फिर कहाँ भटक गए हम? और क्यों?

अब सोचता हूँ तो प्रतीत होता है की हमने अपना भविष्य खरीदने के लिए, अपना आज, कल को बेच दिया | ना ही भविष्य खरीद पाए और अपना आज भी गवां बैठे |

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s